कारोबार

नवयुवकों को कृषि से जोड़ने पर होगा फायदा- अमित मोहन

लखनऊ  । यूपी के प्रमुख सचिव (कृषि) अमित मोहन प्रसाद, ने कहा कि किसान सबसे बड़ा उद्यमी है, जो हर फसल में अलग- अलग जोखिम उठाते हुए समाधान प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 तक किसानों की आय दुगुनी करना सम्भव है और इस अभियान में महिलाओं द्वारा कृषि व्यवसाय में प्रत्यक्ष रूप से बड़े योगदान की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि नवयुवकों को खेती से जोड़ने पर ज्यादा मुनाफा होगा। अमित मोहन मंगलवार को बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा आयोजित विश्व खाद्य दिवस के अवसर पर संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक पद्धति से खेती, किसानों के संगठन की आवश्यकता, जल संरक्षण व समंवित खेती पर उन्होंने बल दिया। उन्होनें बताया कि दिनांक 26 से 28 अक्टूबर 2018 तक प्रदेश सरकार द्वारा लखनऊ में कृषि कुम्भ का आयोजन किया जा रहा है जो कृषक समुदाय के लाभ हेतु एक महत्वपूर्ण प्रयास है। बैंक आफ बड़ौदा के क्षेत्रीय प्रमुख प्रदीप कुमार सचदेवा ने बैंक की विभिन्न ऋण योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की।

उन्होंने बैंक की इन योजनाओं का लाभ उठायें। उन्होनें बताया कि लखनऊ क्षेत्र की 40 शाखाओं द्वारा लगभग 1200 कृषको को लगभग 16 करोड़ का ऋण प्रदान किया जा रहा है। महाप्रबन्धक बैंक ऑफ बड़ौदा के डॉ रामजस यादव ने कहा कि हमारा किसान देश प्रदेश की प्रगति हेतु रीड़ की हड्डी है। उन्होंने बैंक के विभिन्न उत्पादों, किसानों की आय वर्ष 2022 तक दुगुनी करने के उद्देश्य से किये जा रहे प्रयासों एवं कृषि स्नातकों हेतु प्रदेश शासन की एग्रीजंक्शन योजना के वित्त पोषण हेतु बैंक द्वारा किये गयेएम.ओ.यू. का भी उल्लेख किया तथा बैंक की प्रतिबद्धता को दोहराया। इस अवसर पर बैंक द्वारा प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया। जिसमें सुदूर क्षेत्रों से पधारे कृषकों ने बैंक के विभिन्न उत्पादों में काफी रूचि दिखायी।

Related Articles