उत्तर प्रदेश

मऊरानीपुर मेला जलविहार महोत्सव का आयोजन

रिपोर्ट अखिलेश राज                                                           झांसी मऊरानीपुर । मेला जलविहार महोत्सव की दूसरी रात्रि नवीन मेला ग्राऊंड में अखिल भारतीय भगवती जागरण का आयोजन किया गया।कार्यक्रम का उद्घाटन भा ज पा जिला प्रभारी सुब्रत पाठक जिलाध्यक्ष संजय दुबे, विधायक बिहारी लाल आर्य,रामनरेश तिवारी,मुक्ता सोनी,श्री मति वंदना पाठक,ने दीप प्रज्वलित कर एव फीता काटकर किया।                                                                           कार्यक्रम संयोजक एव नगर पालिका पार्षदों ने मुख्य अतिथि एव विशिष्ठ अतिथियों को माल्यार्पण कर एव पगड़ी पहना कर स्वागत किया।इस मौके मुख्य अतिथि सुब्रत पाठक ने कहा कि मऊरानीपुर के प्रसिद्ध मेला जलविहार का नाम बड़ी दूर दूर तक है जिसे देखने के लिए दूर दराज के लोग महीनों से इंतजार करते है।मेले में बुंदेलखंडी संस्क्रति की झलक देखने को मिली तथा आज हमें भी इस मेले में आने का मौका मिला जिसके लिए हम कार्यक्रम संयोजक राजेश बिलाटिया को धन्यवाद देते है।कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे विधायक बिहारी लाल आर्य ने कहा कि यह मेला लगातार 150 वर्षो से लगता आ रहा है।मऊरानीपुर में सबसे अधिक मंदिर है इससे इसे मिनी अयोध्या कहा जाता है।मेरा प्रयास है कि मैं इस मेले को जो अभी तक प्रदेश के अभिलेखों में बुन्देलखण्डिय क्षेत्रीय मेला के नाम से दर्ज है उसे प्रांतीय मेला की सूची में दर्ज करा सकू ताकि मेले का आयोजन ओर भी भव्य तरीके से हो।मेरा प्रयास है कि विधान सभा मे इतने विकाश कार्य हो जिससे इस विधान सभा का नाम दूर दूर तक हो।केंद्र व प्रदेश सरकार बुन्देलखण्ड के विकाश के लिए चिंतित है।उन्होंने कहा कि मऊरानीपुर को जिला बनाये जाने के प्रयास जारी है शीघ्र ही राजस्व विभाग अपनी रिपोर्ट प्रदेश सरकार के पास भेजेगा ओर शीघ्र ही मऊरानीपुर जिला बन जायेगा।इसके लिए हमारे जिलाधिकारी जी ने भी लोगो आश्वत किया है अब जिला बनाने के ओर भी तेज प्रयास होंगे।इसके बाद बाहर से आये कलाकारों ने गणेश वंदना व सरस्वती वंदना से भगवती जागरण की शुरुआत की।दिल्ली से आई भजन गायिका इशरत जहां ने अपने भजन श्री राम जानकी बैठे है मेरे सीने में,लहर लहर लहराए रे मेरी माँ की चुनरिया,काम सबके आसान तेरे शिरडी में तथा दीवाना तेरा आया बाबा तेरी शिरडी में सहित मन को भाव विभोर करने वाले भजन प्रस्तुत किये।वही भजन गायक जे पी रमन दिल्ली ने लोगो को आश्चर्य में डाल देने वाली आकर्षक राधा कृष्ण सुदामा,शंकर पार्वती अगोरी तथा तीन काली देवियो सहित अनेक झांकिया प्रस्तुत की।जे पी रमन ने सावली सूरत पर मोहन दिल दीवाना हो गया,लूट कर दिल जिगर सावरा जादूगर,तथा काली कमली तेरा यार है मेरे मन का मोहन तू दिलदार है।सहित अनेक सुंदर भजन प्रस्तुत किये।बड़े भोर तक चले कार्यक्रम में श्रोताओं ने झूमकर कई बार नृत्य प्रस्तुत किया।इस मौके पर संजय दुबे,संतोष सोनी,डॉक्टर रुचि मिश्रा,अनिल जैन पवन गौतम,नरेंद्र दमेले, मोहन पुरवार, हरी मोहन दुबे,हरचरण चौकरिया, मयंक शर्मा,विनोद सेहगल, वीरेंद्र अग्रवाल,मिथतेश सिंह, दिनेश जतारया, अखिलेश सेठ, रामाधार सिंह यादव,सुनील शर्मा, सुभाष सोनी, करणवीर सिंह भदोरिया, गुड्डू मिस्त्री, रमेश कुशवाह,खूबचंद मनोज कुशवाहा,कमलेश, राज चोकरिया,चिंतामन श्रीवास, प्रमोद सेठ, फिरोज,कमरुद्दीन, मनोज निगोदिया,नंद किशोर रावत, आशीष कौशिक, गौरी शंकर,अभलाश तिवारी, आदि उपस्थित रहे,कार्यक्रम के संयोजक एवं अधिकारी कल्पना शर्मा ने सभी का आभार व्यक्त किया।

 

Related Articles