जॉब्स

खंड शिक्षा अधिकारी के निरीक्षण में आधा दर्जन बंद मिले स्कूल

रिपोर्ट अब्दुल जब्बार मो0 शब्बीर, जगदम्बा श्रीवास्तव

भेलसर(अयोध्या)रुदौली शिक्षा क्षेत्र में बेसिक शिक्षा के तमाम आदेश व निर्देश के बाद भी शिक्षकों की कार्यप्रणाली में सुधार होता नजर नहीं आ रहा है। शुक्रवार को खंड शिक्षा अधिकारी रुदौली यज्ञनरायन वर्मा ने शिक्षा क्षेत्र के आधा दर्जन से अधिक विद्यालयों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में कई विद्यालय बंद पाए जाने की रिपोर्ट जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को भेज दिया है।

सर्वप्रथम निरीक्षण की कड़ी में विकास खंड रुदौली के प्राथमिक विद्यालय हरिहरपुर बलैया 7 बजकर 45 मिनट पर पहुंचे जहां मात्र 10 छात्र-छात्राएं पठन-पठान के समय खेल कूद करते मिले।विद्यालय के अध्यापक नदारद मिले।इसी क्रम में 7 बजकर 55 मिनट पर प्राथमिक विद्यालय पूरे जुलाहा पहुंचे जहां विद्यालय बंद मिला।

छात्र सहित अध्यपक भी नदारद रहे। इसके बाद खंड शिक्षा अधिकारी 8 बजकर 3 मिनट पर प्राथमिक विद्यालय सिपाह भट्ट पहुंच गए वहाँ भी विद्यालय बंद मिला।जहां एक भी अध्यापक व छात्र नहीं मिले।इससे कुछ दूरी पर स्थित प्राथमिक विद्यालय परसौली 8 बजकर 10 मिनट पर पहुंचे वहाँ विद्यालय में पंजीकृत 73 छात्रों में 16 बच्चे उपस्थित मिले।सभी अध्यापक नदारद थे।यही हाल प्राथमिक विद्यालय लोधौरा का था जहां 8 बजकर 44 मिनट पर पंजीकृत 85 में 13 छात्र उपस्थित मिले और सभी अध्यापक नदारद थे।क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय दुल्लामऊ में 9 बजकर 3 मिनट पर पहुंचे एबीएसए को विद्यालय बंद मिला कक्ष के बाहर 3 छात्र बैठे कक्ष खुलने की प्रतिक्षा कर रहे थे जबकि विद्यालय में 66 छात्र-छात्राएं पंजीकृत है।सभी अध्यापक नदारद रहे।खंड शिक्षा अधिकारी ने जब अध्यापकों के उपस्थित रजिस्टर की जांच करने पर पाया कि विद्यालय की प्रधानाध्यापक वंदना त्रिपाठी ने एक दिन पूर्व ही आज का हस्ताक्षर बना दिया है।

सरकार शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए प्रतिमाह करोड़ो रुपए खर्च कर रही है।फिर भी शिक्षक नियमित समय पर विद्यालय नहीं आते हैं।जो शिक्षक विद्यालय में रहते भी हैं तो वे आपस में गप्पे लड़ाने में समय व्यतीत कर देते हैं। बच्चे पठन-पाठन के समय खेलकूद में गुजार देते हैं।
खंड शिक्षा अधिकारी यज्ञनरायन वर्मा ने बताया कि विभागीय कार्यवाही हेतु जांच रिपोर्ट जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को भेज दी गई है।

Related Articles