कारोबार

ओप्पो इंडिया के एमडी का इस्तीफा, लगातार हो रहे नुकसान की वजह से लिया फैसला

नई दिल्ली| चीन की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी ओप्पो इंडिया के प्रबंध निदेशक यी वांग ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है और कंपनी ने भी उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है।

ओप्पो इंडिया

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में नियामकीय फाइलिंग से यह जानकारी मिली। वांग 30 नवंबर को कार्यभार से मुक्त होंगे। उनका इस्तीफा ओप्पो को देश में लगातार बढ़ते नुकसान के बीच आया है।

कंपनी ने बुधवार की देर रात बीएसई में फाइलिंग में कहा, “एक संक्षिप्त बैठक में कंपनी के निदेशक मंडल ने चर्चा कर निम्न प्रस्ताव पारित कर दिए। इनमें कंपनी के प्रबंध निदेशक यी वांग का इस्तीफा 30 नवंबर से प्रभावित है।”

इस दौरान कंपनी ने मंगलवार को घोषणा की कि वह 2019 में अपने वैश्विक बाजारों में रिसर्च एंड डेवलपमेंट (आर एंड डी) में 10 अरब यूआन (1.43 अरब डॉलर) का निवेश करेगी।

ओप्पो के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) टोनी चेन ने अपने प्रौद्योगिकी केंद्रित 2018 ओप्पो टेक्नोलॉजी एग्जीबिशन में आर एंड डी में निवेश को 2019 में बढ़ाकर 10 अरब यूआन करने की घोषणा की थी जो साल-दर-साल वृद्धि 150 फीसदी है। उन्होंने कहा है कि कंपनी इसमें सालाना आधार पर निवेश बढ़ाती रहेगी।

चेन ने जोर देकर कहा, “5जी चलन को ओप्पो को अपनाना चाहिए। 5जी स्मार्टफोन लांच करने वाली पहली कंपनी बनने के प्रयास के तहत ‘5जी प्लस’ युग में ओप्पो का एप्लीकेशन अवसरों का अन्वेषण करने से 5जी का महत्व निर्धारित करेगा।”

Related Articles