अपराधलखनऊ जोन

लखनऊ के इंद‍िरानगर में बदमाशों का धावा,पुलिस को खुली चुनौती,सेवानिवृत कर्मचारी से बंधक बनाकर लूट

लखनऊ ।  के व्यापारी नेता सुजीत पांडेय हत्याकांड और विभूतिखंड में इंजीनियर के घर में हुई डकैती की घटना का राजफाश करने में नाकाम राजधानी पुलिस को बदमाशों ने एक और चुनौती दे दी है। इंदिरानगर के सेक्टर 19 में असलहों से लैस बदमाशों ने दूर संचार विभाग के सेवानिवृत कर्मचारी श्रीचंद चौबे को बंधक बना लिया। विरोध पर बुजुर्ग की बदमाशों ने पिटाई की और फिर घर में रखे लाखों के जेवर तथा नकदी लूट ले गए।

श्रीचंद चौबे के मुताबिक सोमवार रात वह घर पर अकेले मौजूद थे। इसी बीच दो युवक वहां पहुंचे और दरवाजे पर दस्तक दी। श्रीचंद के बाहर निकलने पर युवकों ने कहा कि वह डाक विभाग से आए हैं और आपका पार्सल आया है। श्रीचंद यह सुनकर कमरे से बाहर निकल आए। श्रीचंद के बाहर आने पर एक बदमाश ने कागज थमाते हुए पार्सल रिसीव करने के लिए कहा। श्रीचंद ने पेन मांगा तो उन्होंने कहा कि उनके पास कलम नहीं है। आप ही लेते आइए। श्रीचंद कलम लाने के लिए भीतर कमरे में चले गए। उनके पीछे-पीछे एक बदमाश भी घर में दाखिल हो गया। वहीं, दूसरे बदमाश ने गेट बंद कर दिया और वह भी श्रीचंद के पास पहुंच गया। इसके बाद दोनों ने श्रीचंद को बंधक बना लिया। विरोध पर उनकी पिटाई की और शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद श्रीचंद को बदमाशों ने बंधक बना लिया और फिर घर की तलाशी लेने लगे।

पीडि़त का कहना है कि बदमाशों ने पांच सोने की अंगूठी, एक चेन, तीन मोबाइल फोन, एक चांदी का गुच्छा और 10 हजार रुपये लूट लिए। बदमाशों के जाने के बाद पीडि़त ने किसी तरह खुद को मुक्त किया और आसपास के लोगों को घटना की जानकारी दी। इसके बाद गाजीपुर थाने की पुलिस को सूचना दी गई।

मकान के ऊपरी तल पर रहती हैं युवती

पीडि़त ने बताया कि वह घर में अकेले मौजूद थे। मकान के ऊपरी तल पर एक अधिवक्ता युवती रहती हैं। घर में किसी और शख्स के न होने के कारण बदमाशों ने आसानी से उन पर हमला बोल दिया और लूटपाट कर भाग निकले। माना जा रहा है कि बदमाशों ने रेकी कर घटना को अंजाम दिया है। पुलिस पीडि़त की तहरीर पर एफआइआर दर्ज कर छानबीन कर रही है।

Tags

Related Articles