ब्रेकिंग न्यूज़

Lucknow कैसरबाग बस अड्डे पर ​परिवहन कर्मचारियों ने किया निजीकरण का विरोध

लखनऊ। परिवहन निगम कर्मचारी अधिकारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के बैनर तले बुधवार को परिवहन विभाग के कर्मचारियों ने कैसरबाग बस अड्डे पर ​निजीकरण का विरोध प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने क्षेत्रीय प्रबंधक एवं सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक के माध्यम से प्रबंध निदेशक परिवहन विभाग को ज्ञापन दिया।

परिवहन निगम कर्मचारी अधिकारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के महामंत्री गिरीश मिश्रा ने प्रदर्शन के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि परिवहन विभाग का निजीकरण किया जा रहा है। निजीकरण के विरोध में कर्मचारियों ने पूरजोर तरीके से विरोध करने का मन बनाया है। आज प्रदर्शन कर हमने अपनी सात सूत्रीय मांगों को प्रबंध निदेशक को भेजा है।

यह भी पढ़े:  मौलाना कल्बे सादिक के निधन पर PM ने जताया शोक 

निजीकरण का विरोध करते हुए हमनें सात मांगें की है। इसमें निजी बसों को रास्ता देने, अंतर्राज्यीय बस परमिट पर रोक लगाने, संविदाकर्मियों के वेतन पर बैरियर को समाप्त किए जाने, वर्ष 2001 तक के समस्त संविदाकर्मियों को शासनादेश के अनुरूप नियमित करने की प्रमुख रुप से मांग की गयी है।

बता दें कि लखनऊ की तरह ही प्रदेश के अलग अलग जनपदों में भी मोर्चा के बैनर पर प्रदर्शन हुआ। इसमें जगह जगह पर परिवहन विभाग के प्रमुख सचिव के नाम से जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया है।

Tags

Related Articles