कारोबार

NISAN की टेरानो मार्केट में चारो खाने चित्त, कंपनी करेगी उत्पादन बंद

नई दिल्ली| निसान इंडिया ने साल 2013 में डस्टर कार की सफलता से प्रेरित होकर टेरानो कार को लांच किया था। लेकिन शायद कंपनी का दाव उलटा पड़ गया। और टेरानो मार्केट में आते ही घुटने टेक गई। इसी के चलते कंपनी ने एसयूवी टेरानो का प्रॉडक्शन अब बंद करने की घोषणा की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस कार के प्रॉडक्शन को बंद करने के पीछे निसान की आने वाली कार किक्स है। जिसको टेरानो के ही प्लेटफॉर्म पर तैयार किया जा रहा है। फिलहाल, कंपनी ने इस कार की लांचिंग को लेकर अभी तक कोई खुलासा नहीं किया है।

कार के बारे में अभी तक कंपनी की और से खास जनकारी साझा भी नहीं की गई है लेकिन अंदाजा लगाया जा रहा है कि इस नई किक्स कार में 1.5लीटर और 1.6 लीटर के दो इंजन विकल्प दिए जा सकते हैं। जिसमें 1.5लीटर वाला इंजन 85 बीएचपी और 1.6 लीटर वाला इंजन 100 बीएचपी की पावर जेनरेट करने में सक्षम होगा। साथ ही किक्स में मैन्युअल और ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन दोनों ही विकल्प दिए जाएंगे।

कीमत की बात करें तो कंपनी इस कार को 10 से 15 लाख रुपये की कीमत के बीच मार्केट में उतार सकती है। हालांकि इसके मार्केट में पहले से प्रतिद्वंद्वी पैर जमाये हुए हैं। जिनमें हुंडई की क्रेटा, मारुति की ब्रेजा और रेनो की डस्टर शामिल है।

निसान माइक्रा में 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया है, जो 76 बीएचपी की पॉवर और 104एनएम का टॉर्क देता है। इसके अलावा कार में 1.5 लीटर डीजल इंजन दिया गया है जो 63 बीएचपी की पॉवर और 160 एनएम का टॉर्क जनरेट करता है। माइक्रा में 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स के साथ सीवीटी यूनिट का विकल्प दिया गया है।

माइक्रा एक्टिव में भी वही 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन दिया गया है लेकिन ये कम पावर जनरेट करता है। 1.2 लीटर का यह पेट्रोल इंजन 67 बीएचपी की पॉवर और 104 एनएम का टॉर्क देता है। हालांकियह इंजन सिर्फ 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से लैस है। भारत में निसान माइक्रा इस अपडेटेड वर्जन के साथ अपने प्रतिद्वंदियों जैसे टाटा टियागो और होंडा ब्रायो की मुश्किलें बढ़ा सकता है।

Related Articles