शिक्षा

सरकारी नौकरी के लिए एक परीक्षा,जानें क्या है NRA परीक्षा !

भारत  में अब सरकारी नौकरी के लिए अलग-अलग फॉर्म भरने या ढेर सारी परीक्षाएं देने की जरूरत नहीं होगी। केंद्र सरकार ने बुधवार को बड़ा ऐलान करते हुए एक देश एक भर्ती परीक्षा को मंजूरी दे दी है। नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (एनआरए) के गठन के साथ ही अलग-अलग विभागों के लिए आपको अलग-अलग परीक्षा नहीं देनी होगी। एक ही परीक्षा के अंकों के आधार पर आप आवेदन कर सकेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनआरए को करोड़ों युवाओं के लिए वरदान बताया है। माना जा रहा है कि इससे भर्ती प्रक्रिया में तेजी आएगी और पारदर्शिता भी बढ़ेगी। आखिर यह एनआरए क्या है? यह किस तरह से परीक्षा आयोजित करेगा? उससे युवाओं को कैसे फायदा होगा? ऐसे ढेर सारे सवाल आपके मन में भी उठ रहे होंगे। आइए जानते हैं उनके जवाब…।

केंद्र सरकार ने नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (NRA) का गठन किया है, जिसमें RRB, IBPS और SSC का विलय कर दिया जाएगा। NRA सामान्य योग्यता परीक्षा (CET या सीईटी) का आयोजन कराएगा। सीईटी परीक्षा केंद्र सरकार की नौकरियों के सभी ग्रुप बी और सी पदों के लिए इकलौती प्रवेश परीक्षा होगी।

स्टाफ सेलेक्शन कमीशन (SSC), रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) और इंस्टीट्यूट ऑफ बैंकिंग पर्सनल सेलेक्शन (IBPS) द्वारा गैर तकनीकी पदों के लिए कराई जाने वाली सभी परीक्षाएं अब एनआरए कराएगी। आगे चलकर केंद्र की सभी परीक्षाएं इससे जुड़ जाएंगी।

वर्तमान में सीईटी का स्कोर सिर्फ तीन एजेंसियों तक ही सीमित होगा। मगर सीईटी का स्कोर न सिर्फ राज्यों बल्कि केंद्र व निजी क्षेत्र की भर्ती एजेंसियों के साथ भी इस स्कोर को साझा किया जाएगा। क्या इस एजेंसी द्वारा कराए जाने वाली सीईटी परीक्षा पास करते ही नौकरी पक्की हो जाएगी? अभी तो नहीं लेकिन भविष्य में ऐसा संभव है। सीईटी अभी सिर्फ टीयर-1 यानी स्क्रीनिंग या शॉर्टलिस्ट की परीक्षा है। इसमें पास होने वाले छात्र वेकैंसी के लिए होने वाली उच्च स्तरीय परीक्षा के लिए आवेदन कर सकेंगे। हालांकि कुछ एजेंसियों ने सिर्फ सीईटी परीक्षा के आधार पर सीधे नौकरी देने के भी संकेत दिए हैं।

 

Tags

Related Articles