उत्तर प्रदेशमध्य प्रदेश

MP पुलिस ने UP विधायक विजय मिश्रा को हिरासत में लिया, जानिए पूरा मामला ?

मालवा। उत्तर प्रदेश के ज्ञानपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक विजय मिश्रा को कथित जबरन वसूली के मामले में मध्य प्रदेश पुलिस ने शुक्रवार को आगर-मालवा जिले में हिरासत में ले लिया। आगर-मालवा जिले के पुलिस अधीक्षक राकेश सगर ने बताया कि भदोही पुलिस ने ज्ञानपुर से निषाद पार्टी के विधायक विजय मिश्रा को पकड़ने में मदद मांगी थी। मिश्रा उज्जैन से कोटा जा रहे थे, तब हमने जिले की तनोड़िया पुलिस चौकी पर उन्हें हिरासत में ले लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि भदोही पुलिस ने मिश्रा के खिलाफ जबरन वसूली का मामला दर्ज किया है और इस मामले में वह वहां वांछित हैं।

गौरतलब है कि विधायक पर उनके ही एक रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी ने विधायक, उनकी पत्नी रामलली मिश्रा, उनके बेटे विष्णु पर कथित तौर पर धमका कर संपत्ति हड़पने का मामला दर्ज कराया था। मिश्रा की पत्नी रामलली मिश्रा समाजवादी पार्टी से विधान परिषद की सदस्य हैं। सगर ने बताया कि विधायक को हिरासत में लेने के बाद हमने भदोही पुलिस को इसकी सूचना दे दी है और अब हम उनका इंतजार कर रहे हैं ताकि मिश्रा को कानूनी प्रक्रिया के तहत भदोही पुलिस के हवाले किया जा सके। एसपी ने स्पष्ट किया कि मिश्रा को यहां गिरफ्तार नहीं किया गया है, पुलिस ने उन्हें यहां केवल हिरासत में लिया है और मामले में आगे की कार्रवाई भदोही पुलिस द्वारा की जायेगी।

भदोही के पुलिस अधीक्षक रामबदन सिंह ने बताया कि शुक्रवार को मिश्रा के मध्य प्रदेश के उज्जैन के महाकाल मंदिर में दर्शन किये जाने का लोकेशन मिलने पर आगर-मालवा जिले के पुलिस अधीक्षक से उनको रोकने का आग्रह किया गया। सिंह ने कहा कि भदोही पुलिस की एक टीम विजय मिश्रा को लेने के लिए रवाना कर दी गई है। विजय मिश्रा पर कुल 73 मुक़दमे दर्ज हैं। मिश्रा भदोही की ज्ञानपुर विधानसभा सीट से 2017 में विधानसभा चुनाव जीते थे।

Related Articles