ब्रेकिंग न्यूज़लखनऊ जोन

लखनऊ के विभूतिखंड में मजदूर की मौत !

राजीव श्रीवास्तव लखनऊ । विभूतिखंड थाना क्षेत्र में एक घर के अंदर बंद कमरे में अचेत अवस्था में एक मजदूर पड़ा मिला। मामले की भनक लगते ही परिजनों ने सूचना पुलिस को दी।
मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजे को तोड़ कर युवक को अस्पताल में भर्ती करवाया , जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं बाद में शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई।

पत्नी से झगड़े के बाद खुद किया था कमरे में बंद

विभूतिखंड के कठौता गांव निवासी 24 वर्षीय महेश राजपूत अपनी पत्नी सोभावती, भाई सुरेश व माता पिता के साथ रहता था। महेश लोहे के सरिया में तार का जाल बांधने का काम करता था। बताया जा रहा है कि बीती देर रात करीब 12 बजे महेश और उसकी पत्नी में किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। गुस्से में आए महेश ने थोड़ी देर बाद खुद को अपने कमरे में बंद कर लिया था। पत्नी सोभा ने बताया कि इस दौरान वह दूसरे कमरे में सो गई थी। रात दो बजे अनहोनी का एहसास होने पर वह महेश के कमरे पर पहुंची , जहां कमरा अंदर से बंद मिला । काफी देर आवाज लगाने पर जब कोई आहट नहीं हुई तो उसने जानकारी परिजन व पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस दरवाजे को तोड़ कर अंदर प्रवेश हुई, जहां फर्श पर महेश अचेत अवस्था में पड़ा था। पुलिस उसे आनन फानन ने लोहिया लेकर पहुंची जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

डेढ़ साल पहले है गई थी बच्चे की मौत

इंस्पेक्टर विभूतिखंड संजय शुक्ला के मुताबिक परिजनों से पूछताछ में पता चला है कि करीब डेढ़ साल पहले महेश को पुत्र प्राप्ति हुई थी। लेकिन दो दिन बाद उसके बच्चे की मौत हो गई। इस बात से परेशान महेश ने शराब पीना शुरू कर दिया था। शराब की लात से परेशान उसका पत्नी से अक्सर झगड़ा हुआ करता था। वहीं आशंका जताई जा रही है कि ज्यादा शराब पीने से और डिप्रेशन के कारण उसकी मौत हो गई। फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद मौत का सही कारण स्पष्ट हो पाएगा।

Tags

Related Articles