जॉब्स

विधानसभा घेराव करने जा रहे अभ्यर्थियों पर BJP कार्यालय के बाहर लाठीचार्ज

लखनऊ : सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा में उत्तीर्ण और काउंसलिंग से बाहर किए गए विभिन्न जिलों से आये सैकड़ों की संख्या में अभ्यर्थी शुक्रवार दोपहर को विधानसभा का घेराव करने जा रहे थे। वही इस दौरान पुलिस ने उन्हें बैरिकेडिंग लगाकर रोक रोका तो वह उग्र हो गए। प्रदर्शनकारी जब पुलिस से भिड़ गए तो पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया। जहां अचानक कुछ सेकेंड में ही वहां लाठीचार्ज से भगदड़ मच गई। काफी देर तक चले हंगामे के बाद पुलिस ने किसी तरह स्थिति संभाली। हालांकि इस दौरान उधर की यातायात व्यवस्था ध्वस्त हो गई। जिसे घंटो की मशक्कत के बाद सही किया जा सका।

 

आप को बतादें कि निष्‍पक्ष तरीके से शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर शिक्षकों का प्रदर्शन लगातार जारी है। 68500 शिक्षक भर्ती की हरी झंडी मिलने के बाद परीक्षा में पास हुए 41556 अभ्यर्थियों की काउंसलिंग शुरू होने थी। लेकिन जो सूची जारी की गई, उसमें 34660 अभ्यर्थियों का ही चयन हुआ। बचे हुए अभ्यर्थियों ने आरक्षण की वजह से नाम हटाने का आरोप लगाते हुए पिछले दिनों भी निशातगंज स्थित एससीईआरटी कार्यालय का घेराव कर दिया और जमकर नारेबाजी की थी। वही शुक्रवार को भी सैकड़ों की संख्या में अभ्यर्थियों के पहुंचने से पुलिस महकमे में भी हड़कम्प मच गया। जिसके बाद भारी पुलिस बल विधानसभा के बाहर तैनात कर दिया गया। दरसअल अभ्यर्थियों का आरोप है कि आरक्षण के चलते जनरल कैटेगरी के 5696 अभ्यर्थियों को सूची से हटा दिया गया है। जबकि 68500 अभ्यर्थियों में से 41556 अभ्यर्थी परीक्षा में पास हुए थें। जिन्हें नियुक्ति देने की बात कही गई थी, लेकिन जो सूची जारी की गई है उसमें 34660 अभ्यर्थियों का ही नाम आया है। जिसमें 5696 जनरल कैटेगरी के अभ्यर्थियों को आरक्षण के चलते सूची से बाहर कर दिया गया। वही अभ्यर्थी अपनी नियुक्ति की मांग को लेकर विधानसभा का घेराव करने पहुंचे थे। जहां प्रदर्शनकारी छात्रों का कहना है कि अगर उनकी मांगे नहीं पूरी हुई तो लगातार प्रदर्शन जारी रहेगा।

Related Articles