कारोबारज़रा-हटके

गर्मी का प्रकोप बढा, लोग हो रहे बेहाल,तेज धूप में पसीनों में तरबतर नजर आ रहे लोग


लखनऊ। उत्तर प्रदेश मेें मई माह आधे से ज्यादा गुजर चुका है और अब गर्मी ने भी अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया है। सोमवार को भीषण गर्मी के चलते लोग परेशान नजर आए। धूप से बचने के लिए लोगों को गमछे का सहारा लेना पड रहा है। लाॅक डाउन के चलते बाजार बंद हैं और लोग कम ही घरों से बाहर निकल रहे हैं जिसके चलते उन्हें गर्मी का अहसास कम हो रहा है लेकिन बाहर निकलने पर लोग गर्मी से बेहाल नजर आ रहे हैं। धूप इतनी तेज है कि लोग थोडी ही देर में पसीने से तरबतर नजर आते हैं।
जानकारी के अनुसार वैसे तो गर्मी का मौसम मार्च में ही शुरू हो जाता है लेकिन इस बार गर्मी होते ही बारिश होने के चलते लोगों को इसका कम ही अहसास हो रहा था लेकिन इसी दौरान कोरोना वायरस को लेकर देश में लाॅक डाउन घोषित कर दिया जिसके चलते लोग घरों में ही कैद होकर रह गए। पूरे अप्रैल माह में भी लोगों के घरों से बाहर न निकलने के चलते गर्मी का अहसास भी नहीं हुआ, इसी बीच मौसम में भी परिवर्तन होता रहा, कभी धूप निकलती तो कभी तेज बारिश हो जाती, इससे मौसम का रुख भी नरम बना रहा। मई माह में भी एक दो बार बारिश होने से तापमान सामान्य रहा लेकिन अब गर्मी ने धीरे-धीरे अपना प्रकोप दिखाना शुरू कर दिया है। पिछले चार-पांच दिनों से तेज गर्मी के कारण लोग बेहाल नजर आ रहे हैं। मंगलवार को भी भीषण गर्मी का प्रकोप बना रहा जिसके कारण लोग परेशान रहे।

धूप से बचने के लिए लोगों को गमछे का सहारा लेना पडा। आलम यह है कि सुबह से ही गर्मी का प्रकोप शुरू हो जाता है जो दोपहर तक भीषण रूप ले लेता है। सुबह के समय गर्मी का प्रकोप बना हुआ है जिस कारण बाजारों में खरीददारी के लिए आने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड रहा है, लोग जल्द से जल्द खरीददारी कर अपने घरों को लौट रहे हैं ताकि गर्मी से बचा जा सके। लोगों का कहना है कि लाॅक डाउन के कारण पूरा शहर में सन्नाटा पसरा हुआ है और लोग अपने-अपने घरों में रहते हैं जिस कारण ज्यादा गर्मी का अहसास नहीं होता लेकिन अगर घर से बाहर निकल जाए तो थोडी देर में ही पसीनों से तरबतर हो जाते हैं। लोगों ने आगामी दिनों में गर्मी का प्रकोप और ज्यादा बढने की संभावना भी जतायी है। उनका कहना है कि यदि इस दौरान बारिश हो जाए तो गर्मी से कुछ हद तक राहत मिल सकती है। इसी बीच बिजली की भी आंख मिचौली लोगों को परेशान कर रही हैं।

Related Articles