राज्य

Barabanki-पकंज गुप्ता पंकी द्दारा सेवा से पूरी हुई गरीब-असहायों की जरुरत


बाराबंकी। लॉकडाउन के दौरान गरीब और वंचित सिर्फ जुग्गी झोपड़ियों और कांशीराम कालोनियों में ही नहीं रहते ऐसे लोग नगर के पुराने मोहल्लो में बने घरो और अमीरों के घरो के आसपास भी मौजूद है।ऐसे लोगो तक राहत पहुंचे इसके लिये पंकज गुप्ता पंकी ने अपने ही तरीके उनका पता लगाकर मदद कर रहे है।लॉकडाउन के चलते छोटे- मोटे काम करके अपना गुजारा करने वाले परिवारों का जीवन कठिन दौर से गुजर रहा है। इस बात को सरकार भी भली भांति समझते हुऐ तीन महीनो तक प्रति यूनिट पांच किलो राशन मुफ्त बाटने के साथ उज्वला योजना के गैस सिलेंडर और महिलाओ के जनधन खाते में 500 रूपये आदि व्यवस्था की है।जिला प्रशासन भी अपनी तरफ से जरूरतमंद लोगो की सहायता के लिये संभव प्रयास कर रहा है।हेल्पलाइन 112 पर फोन करके भी जरुरतमंदो को सहायता पहुंचायी जा रही है।

पंकज गुप्ता पंकी बसपा नेता

वही कई जनप्रतिनिधि, समाजसेवी और नेता भी भोजन वितरित करके वाहवाही लूट रहे है! इन सबके बावजूद बहुत से लोग समाज में उपहास और संकोच के भय कहे या जागरूकता की कमी तथा जानकारी के आभाव में किसी ना किसी वजह से राशन के अभाव से ग्रस्त है! ऐसे लोगो को सहायता प्रदान करने के लिये अनेको संगठन भी प्रयासरत है! लेकिन बहुत से परिवार ऐसे है जिन तक अगर पहुंचने में सफल हुऐ तो वो है समाजसेवी पंकज गुप्ता पंकी! जिन्होंने गली मोहल्लो में रहने वाले ऐसे परेशान लोगो तक राशन पहुंचाने का काम किया जो अपनी व्यथा किसी से नहीं कह पा रहे है! अपने सहयोगी वैस सलमानी के माध्यम से क्षेत्रीय लोगो से जरूरतमंद लोगो का पता लगा कर उनके घर पर ही राशन का थैला पहुंचा रहे है! पंकी और उनके सहयोगी बिना भीड़ जुटाये एकांत में असहाय लोगो तक मदद पहुंचा रहे है! उनकी निस्वार्थ सेवा से जरूरतमंदों को भी शर्मिंदा नहीं होना पड़ रहा जिससे और लोग भी उनसे अपनी व्यथा बताने के लिये आगे आ रहे है! पंकी की निस्वार्थ भाव सेवा उन जनप्रतिनिधियों के लिये सबक है जो बड़े बड़े दावे कर रहे है! लेकिन मदद के नाम पर वादा लेने और अहसान जताने के साथ अपना प्रचार और प्रसार करके स्वार्थ सिद्ध कर रहे है

Related Articles