कानपुर जोन

फतेहपुर- यमुना में नाव पलटने से लॉकडाउन की निगहबानी कर रहे दरोगा सहित तीन पुलिस कर्मी डूबे


पुलिस,पीएसी,गोताखोरो का रात में भी जारी है अभियान
तेज हवाओ के साथ बारिश से खोजने मे हो रही दिक्कत

फतेहपुर।किशुनपुर थाना क्षेत्र में शनिवार शाम बड़ा हादसा हो गया। संगाोलीपुर मड़ैयन घाट पर यमुना नदी पार करते समय नाव अनियत्रित होकर पलट गई, जिसमें सवार दारोगा और सिपाही समेत तीन लोग डूब गए। घटना की जानकारी होते ही पुलिस टीम घाट पर पहुंच गई है और गोताखोरों ने सभी की तलाश शुरू कर दी है। नाव सवार पुलिस कर्मी लॉकडाउन में निगरानी के लिए नाव से बांदा की छोर पर जा रहे थे।किशनपुर थाने में तैनात जौनपुर निवासी दारोगा रामजीत यादव, कासमाबाद गाजीपुर निवासी सिपाही शशिकांत व संगोलीपुर मड़ैयन निवासी नाविक रवि के साथ नाव में सवार होकर यमुना घाट से लॉकडाउन की निगरानी करने बांदा सीमा में जा रहे थे।यमुना नदी में तेज बहाव होने की वजह से नाव पलट गई।नाव पलटते देखकर घाट पर खड़े लोगों में अफरा तफरी मच गई।घाट किनारे पर मौजूद सिपाही ने वायरलेस सेट से अफसरों को सूचना दी।

कुछ ही देर में डीएम संजीव सिंह व एसपी प्रशांत वर्मा फोर्स लेकर घटना स्थल पर पहुंच गए।गोताखोरों की टीम देर रात तक जाल डालकर डूबे लोगों की तलाश में जुटी रही। सीओ कपिलदेव मिश्र ने कहा कि सरकारी कार्य के लिए दारोगा व सिपाही नाव से लॉकडाउन की निगरानी करने निकले थे लेकिन तेज बहाव की वजह से नाव पलट गई। यमुना नदी में जाल डलवाकर गोताखोरों की मदद से दारोगा, सिपाही व नाव चालक की तलाश कराई जा रही है।यमुना नदी में तीन जाल डलवाए,पीएसी भी बुलाई दारोगा,सिपाही व नाविक का पता लगाने के लिए पुलिस ने यमुना नदी में तीन जाल डलवाए है।पुलिस के साथ पीएसी के गोताखाेरों को बुलाया गया है।गरज के साथ बारिश शुरू हो जाने से खोजने में दिक्कत हो रही है।

Related Articles