अपराध

प्रयागराज: बालू लदे ट्रैक्टर ट्राली से कुचलकर सिपाही की मौत,पुलिस महकमे में मचा कोहराम

रिपोर्ट – प्रयागराज मुकेश

प्रयागराज ।क्षेत्र के मोहब्बतगंज ठकुरी का पुरवा स्थित यमुना कछार के पास बालू लदे ट्रैक्टर ट्राली से कुचलकर सिपाही की मौत हो गई।

घटना आज रात तब हुई जब पुलिस अवैध बालू खनन करने वालों को पकड़ने पहुंची थी।सूचना पर एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज समेत तमाम अफसर मौके पर पहुंच गए।सिपाही की मौत से प्रयागराज में कोहराम मचा गया।

एग्रीकल्चर पुलिस चौकी में तैनात सिपाही रवि पांडेय (35) पुत्र सत्यदेव पांडेय मूल रूप से बड़का लौहार, बड़हरा थाना, भोजपुर, जिला आरा, बिहार का रहने वाला था।

वह अपने साथी हेड कांस्टेबिल मनोज राय, चौकी इंचार्ज एग्रीकल्चर तरुणेंद्र त्रिपाठी व एक अन्य दरोगा के साथ मोहब्बतगंज के ठकुरी का पूरा गांव के यमुना कछार में अवैध बालू खनन की सूचना पर पहुंचा था।

अचानक पुलिस को सामने देख बालू लादकर जा रहे लोग ट्रैक्टर लेकर भागने लगपुलिस वालों ने उन्हें पकड़ने के प्रयास किया तो उनकी गाड़ी बालू में फंस गई

उधर रवि ने गाड़ी से उतरकर ट्रैक्टर को पकड़ने का प्रयास किया और इसी दौरान ट्राली पलट गई

जिसके नीचे दबने से रवि की मौके पर ही मौत हो गई

सूचना मिलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया

मौके पर आला अधिकारी पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया

पुलिस के मुताबिक, मौके पर मिला ट्रैक्टर मोहब्बतगंज के राजबहादुर का है।

चौंकाने वाली बात यह रही कि उसकी सरकारी पिस्टल मौके से गायब मिली

देर रात तक जेसीबी लगाकर पुलिसकर्मी पिस्टल की खोजबीन में लगे रहे

उधर, ट्रैक्टर मालिक राजकुमार के घर के बाहर खड़ी गाड़ी में पुलिसकर्मियों ने तोड़फोड़ भी की

दुर्घटना में मारा गया सिपाही रवि पांडेय वर्ष 2011 बैच का सिपाही था

नैनी में नियुक्ति 26 मार्च 2018 को हुई है

मौके पर पहुंचे पुलिस अफसरों को साथी पुलिसकर्मियों ने बताया कि घटना के वक्त रवि के पास उसकी सरकारी पिस्टल थी

हालांकि हादसे के बाद वह मौके पर नहीं मिली

बालू के नीचे पिस्टल के दब जाने की आशंका में रात में ही जेसीबी लगाकर पुलिसकर्मी खोजबीन में जुटे रहे लेकिन खबर लिखे जाने तक कोई सफलता नहीं मिली थी।

उधर, मौके से मिले ट्रैक्टर को कब्जे में लेने के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की तो पता चला कि यह घटनास्थल से कुछ दूरी ही राजकुमार निषाद का घर है।

जिसकी तलाश करते हुए पुलिस उसके घर पहुंची तो पुलिस ने आरोपी के घर से आधा दर्जन लोगों को हिरासत में भी ले लिया है।

फाइल फोटो

सफाई देने में जुटे रहे पुलिसकर्मी।घटना के बाद मौके पर पहुंचे एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज को मौके पर मौजूद अफसर व अन्य पुलिसकर्मी सफाई देने में जुटे रहे।

एसएसपी के पूछने पर वह यह कहते रहे कि ट्रैक्टर खाली था और चालक को पकड़ने की कोशिश में सिपाही हादसे का शिकार हो गया।जिस पर एसएसपी ने उन्हें फटकार भी लगाई

सूत्रों का कहना है कि पुलिसकर्मियोें को डर था कि रोक के बावजूद उनकी नाक के नीचे चल रहे अवैध बालू खनन के खेल की भनक कहीं कप्तान को न लग जाए।

आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द से जल्द की जाएगी।सिपाही की मौत हुई है, दोषियों को बख्शा नही जाएगा।बालू खनन और परिवहन की सूचना पर दबिश देने पुलिस टीम गई थी।

Related Articles