ब्रेकिंग न्यूज़

एक्शन में आधिकारी,ग्राहक बनकर मंडी पहुंचे कालाबाजारी करने वालों को हिरासत में

डीएम

कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए 14 अप्रैल तक किए लॉकडाउन में दुकानदार निर्धारित मूल्य से ऊंचे दामों पर सब्जियों और खाद्य सामग्रियों की बिक्री करने की शिकायतें भी आ रही हैं. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में कालाबाजारी के खिलाफ सोमवार को वाराणसी के जिलाधिकारी और एसएसपी ने खुद ही ऐसे लोगों पर लगाम लगाने के लिए सड़क पर उतरे हैं. जिलाधिकारी और एसएसपी आम आदमी बनकर बाजार पहुंचे. इस दौरान उन्होंने कुछ सामान खरीदा तो कई दुकानदार निर्धारित रेट से अधिक पर सामान बेच रहे थे. डीएम और एसएसपी के आदेश पर इन दुकानदारों को हिरासत में ले लिया गया है।

डीएम और एसएसपी ने बताया कि वह आज चेतगंज थाना क्षेत्र के दलहट्टा, चेतगंज, मंसाराम फाटक आदि इलाको में सादे कपड़ों में खरीदारी करने पहुंचे. इस दौरान कई दुकानदार निर्धारित मुल्य से ज्यादा दाम पर सामान बेच रहे थे. पुलिस ने कई दुकानदारों को हिरासत में लिया है. अब उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

इससे पहले वाराणसी जिला प्रशासन ने कालाबाजारी को रोकने के लिए रेट लिस्ट जारी किया था. इसमें आटा 31 से 33 रुपये किलो,अरहर दाल 86 से 92 रुपये किलो , सेब 65 से 85 रुपए किलो, संतरा 35-45 रुपये किलो, सरसों तेल 112 से 116 रुपये किलो, चीनी 38 से 40 रुपये किलो बेचने का फरमान जारी किया गया था.

Related Articles