खेल

धोनी नहीं लेंगे संन्‍यास,रांची में शुरू की माही ने प्रैक्‍टिस

टीम इंडिया (Team India) के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) बाउंस बैक करने के लिए जाने जाते हैं. जब भी लोगों को लगता है कि धोनी (MS Dhoni) अब संन्‍यास लेने वाले हैं, तभी एमएस धोनी (Mahi) बल्‍ला लेकर निकलते हैं और सारे कयासों पर विराम लगा देते हैं. गुरुवार को धोनी के साथ ऐसा कुछ हुआ, जिसकी उम्‍मीद किसी को नहीं थी, बीसीसीआई की ओर से अनुबंध सूची (BCCI contract renewal) से बाहर किए जाने से धोनी के फैंस को बहुत बड़ा झटका लगा, लेकिन यह कुछ ही देर की बात थी. अब धोनी (Dhoni) एक बार फिर बल्‍ला लेकर बाहर आ गए हैं और उन्‍होंने प्रैक्‍टिस (Dhoni practice in Ranchi) शुरू कर दी है. अब देखना यही है कि धोनी टीम इंडिया में वापसी के लिए अभ्‍यास कर रहे हैं, या फिर वे आईपीएल की तैयारी में जुट गए हैं, जो इसी साल मार्च से आखिर में शुरू होना है. 

बीसीसीआई की अनुबंध सूची से बाहर किए गए पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अपने भविष्य को लेकर लगाई जा रही अटकलों के बीच झारखंड रणजी टीम के साथ अभ्यास शुरू कर दिया. अब करीब 38 साल के हो चुके माही रांची में अपनी घरेलू टीम के नेट अभ्यास सत्र के दौरान उपस्थित था. इस तरह से उन्होंने आईपीएल यानी इंडियन प्रीमियर लीग के लिए खुद को तैयार रखने के संकेत भी दे दिए. गुरुवार को ही बीसीसीआई ने उन्हें केंद्रीय अनुबंध वाले खिलाड़ियों की सूची से बाहर किया. झारखंड टीम प्रबंधन के करीबी सूत्रों ने पीटीआई से कहा, यहां तक कि हमें भी पता नहीं था कि वह हमारे साथ अभ्यास करने के लिए आ रहे हैं. यह सुखद आश्चर्य था. उन्होंने कुछ देर तक बल्लेबाजी की.

उन्होंने कहा, हमें उम्मीद है कि वह नियमित तौर पर टीम के साथ अभ्यास करेंगे. उनकी उपस्थिति से ही खिलाड़ियों को मदद मिल सकती है. धोनी अपने अभ्यास के लिए नई गेंदबाजी मशीन लेकर भी आए. झारखंड की टीम ने जहां लाल गेंद से अभ्यास किया, वहीं धोनी ने सफेद गेंद से ही अभ्यास करेंगे. झारखंड अपना अगला मैच रांची में रविवार से उत्तराखंड के खिलाफ खेलेगा. धोनी ने नौ जुलाई को भारत के विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारने के बाद कोई प्रतिस्पर्धी मैच नहीं खेला है. 

आपको बता दें कि टीम इंडिया के पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी को गुरुवार को बीसीसीआई के केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची से बाहर कर दिया गया था, इसके बाद माही के भविष्य को लेकर एक बार फिर संदेह के बादल मंडराने लगे हैं. बीसीसीआई ने अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 तक के लिए केंद्रीय अनुबंधों का ऐलान किया है. धोनी पिछले साल तक ए ग्रेड में थे जिन्हें सालाना पांच करोड़ रूपये मिलते थे. कप्तान विराट कोहली, उपकप्तान रोहित शर्मा और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ए प्लस ग्रेड में बने हुए हैं जिन्हें सात करोड़ रूपये प्रतिवर्ष मिलते हैं. धोनी के अनुबंध का नवीनीकरण नहीं होना वैसे हैरानी की बात नहीं है, क्योंकि उन्होंने नौ जुलाई को विश्व कप सेमीफाइनल के बाद से कोई इंटरनेशनल मैच नहीं खेला है. वह क्रिकेट से दूर है और अपने भविष्य के बारे में कुछ खुलासा भी नहीं कर रहे हैं. मुख्य कोच रवि शास्त्री ने हाल ही में कहा था कि धोनी जल्दी ही वनडे क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं, ताकि आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करके टी20 विश्व कप के लिए दावा पुख्ता कर सकें. निवर्तमान मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद पहले ही कह चुके हैं कि धोनी को प्रदर्शन के आधार पर ही टीम में फिर चुना जाएगा. धोनी ने अभी भविष्य के बारे में कुछ नहीं कहा है, लेकिन उनके आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलने की पूरी संभावना है. विश्व कप के बाद से वह वेस्टइंडीज दौरे और दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश, वेस्टइंडीज और आस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज से बाहर रहे. भारतीय क्रिकेट के सबसे बड़े नामों में से एक धोनी ने दक्षिण अफ्रीका में 2007 में टी20 विश्व कप और भारत में 2011 वनडे विश्व कप जीता है.  उन्होंने 90 टेस्ट, 350 वनडे और 98 टी20 मैच खेलकर करीब 17000 रन बनाए और विकेट के पीछे 829 शिकार किए हैं. 

Related Articles