उत्तर प्रदेश

लखनऊ नाका में अवैध होटलों का निर्माण जारी, LDA ने 5 की मौत से भी नहीं लिया सबक

लखनऊ : जून माह में नाका के चारबाग स्थित एसएसजे होटल और होटल विराट इंटरनेशनल में लगी आग और उसकी चपेट में आकर मासूम सहित 5 लोगों की मौत के बाद भी लखनऊ विकास प्राधिकरण और उसके अभियंताओं पर कोई फ़र्क़ नहीं पड़ रहा है, नाका में अवैध होटल पर कार्यवाही के बजाय एलडीए अभियंता मोटी रकम के लालच में एक के बाद एक अवैध होटल का निर्माण अपने संरक्षण में करा रहे हैं।

नाका क्षेत्र में गुरु नानक मार्केट में जारी है अवैध होटल का निर्माण

लखनऊ विकास प्राधिकरण के अभियंताओं को मिली भगत से गुरु नानक मार्केट में अवैध तरीके से बने होटल में एक और फ्लोर का निर्माण किया जा रहा है, 5 से 7 लाख रुपये प्रति स्लैब की दर से यहाँ एलडीए अभियंता अवैध होटलों से वसूली करते हैं, यही वजह है कि अवैध निर्माण के खिलाफ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बावजूद यहाँ अवैध निर्माण अपने चरम पर है.

 

नाका सब्ज़ी मंडी के पास जारी है अवैध होटल का निर्माण

नाका सब्ज़ी मंडी के पास भी इसी तरह से अवैध होटल का निर्माण किया जा रहा है , लेकिन एलडीए के ज़िम्मेदारों को यहाँ कोई भी अवैध निर्माण नहीं दिखता है, लखनऊ के जिलाधिकारी ने नाका में चल रहे अवैध होटलों की जांच और उनके खिलाफ कार्यवाही करने के आदेश दिए थे लेकिन जिलाधिकारी के आदेश भी यहाँ नज़र अंदाज़ किये जा रहे हैं, हर तरफ अवैध होटल और अवैध निर्माण जारी है लेकिन लखनऊ विकास प्राधिकरण के अभियंता “मोती रकम” के लालच में कार्यवाही करने के बजाय अवैध निर्माण करने वालों को संरक्षण देने में लगे हैं।

नौ घंटे बाद पाया आग पर काबू

नाका में बने अवैध एसएसजे होटल और होटल विराट इंटरनेशनल में लगी आग को बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड की 20 फायर टेंडर्स घंटों तक मशक्कत करती रहीं थी, तब जाकर नौ घंटे बाद दोपहर दो बजे आग पर पूरी तरह काबू पा लिया गया था. दोनों होटल पूरी तरह जलकर खाक हो चुके थे. आग पर काबू पाने के बाद पुलिस, प्रशासन और फायरकर्मियों ने दोनों होटलों के एक एक कमरे को चेक किया था, करीब एक घंटे तलाशी के बाद विराट इंटरनेशनल होटल के बेसमेंट में एक व्यक्ति की जली हुई लाश भी मिली थी. मृतक का शरीर इतनी बुरी तरह झुलस चुका था कि उसे पहचानना मुश्किल था. गैर इरादतन हत्या का मुकदमा हुआ था दर्ज तत्कालीन एसएसपी दीपक कुमारके आदेश पर तत्कालीन एसएसआई नाका अशरफुल एन सिद्दीकी की तहरीर पर नाका पुलिस ने दोनों होटलों के मालिक व कर्मचारियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 279, 285, 337, 338, 304 और 7सीएलए के तहत एफआईआर दर्ज की थी।

Tags

Related Articles