खेल

WI v/s IND 1st Test : अजिंक्‍य रहाणे ने जड़ा अर्धशतक, पहले दिन टीम इंडिया का स्‍कोर 203/6

पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय विकेटकीपर बल्‍लेबाज ऋषभ पंत 20 और रवींद्र जडेजा 3 रन बनाकर क्रीज पर थे। वेस्‍टइंडीज ने मैच में टॉस जीतकर भारत को पहले बल्‍लेबाजी के लिए आमंत्रित किया था.भारत के लिए रहाणे के अर्धशतक के अलावा ओपनर लोकेश राहुल ने 44 और हनुमा विहारी ने 32 रन की पारी खेली ।

टॉस जीतकर विंडीज कप्तान जेसन होल्डर ने पहले गेंदबाजी चुनी, तो वजह बताया पिच में नहीं. लेकिन नमी का असर तो एकदम नदारद ही दिखा क्योंकि पिच से गेंद सीम नहीं हो रही थी. और न ही स्किड कर रही थी. हां, गेंद टप्पा पड़कर जरूर थोड़ा धीमी भी आ रही थी और थोड़ा सा नीचे भी रह रही थी. इस पर केमार रोच के सटीक टप्पे का तड़का लगा, तो विंडीज की बल्ले-बल्ले हो गई!! कप्तान के पहले गेंदबाजी करने के फैसले को रोच ने सही ठहराया. लगभग एक ही अंदाज में रोच ने मयंक अग्रवाल और चेतेश्वर पुजारा को पांचवें ओवर में ही चलता कर दिया. गेंद पड़ी. पड़ने के बाद धीमी और नीची और हल्का सीम. दोनों के ही बल्ले को चूमते हुए विकेटकीपर शाई होप के हाथों में जा समाई. और भारत की ठोस शुरुआत ही होप पांचवें ओवर में ही चकनाचूर हो गई. दोनों ही बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके.दो विकेट सस्ते में गिरने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली और गैब्रियल के बीच टक्कर देखने को मिली. दबाव के पलों दो बेहतरीन चौके कोहली ने जड़े, लेकिन आठवें ओवर में यह टक्कर एक अलग स्तर पर पहुंची दिखाई पड़ी, जब एक चौका खाने के बाद गैब्रियल ने एक बहुत ही खूबसूरत बाउंसर कोहली को जड़ी. कोहली ने खूबसूरती से छोड़ा, लेकिन अगली नो-बॉल पर शॉट खेलने में चूके. गेंद कोहनी पर लगी और स्लिप के पास टप्पा खाती हुई बाउंड्री के पार चली गई. लेग बाई के चार रन खाते में आए, पर ठीक अगली ही गेंद पर गेब्रियल ने कोहली की पारी का अंत कर दिया. दो बाउंसर जड़ने के बाद कोहली को अगली गेंद पर शॉट खेलने के लिए जगह मिली, लेकिन यह जगह नाकाफी रही. समय कम रहा, तो बल्ला पूरी तरह नहीं चल पाया. हॉफ कट और हॉफ स्टीयर. गेंद ने ज्यादा खेला, बल्ले ने कम!! नियंत्रण  शॉट से पूरी तरह नदारद और गेंद बल्ले से लगकर गली में खड़े पहला टेस्ट खेल रहे ब्रूक्स के हाथों में जा समाई. और जो टेस्ट गैब्रियल ने सेट किया, उसे पास करने में कोहली नाकाम हो गए. लंच के समय भारत का स्‍कोर तीन विकेट खोकर 68 रन था. केएल राहुल 37 और अजिंक्‍य रहाणे 10 रन बनाकर क्रीज पर थे.

दूसरा सेशन: रहाणे ने अर्धशतक पूरा किया

दूसरे सेशन में टीम इंडिया ने राहुल के रूप में अपना चौथा विकेट गंवाया जो 44 रन बनाने के बाद रोस्‍टन चेज की गेंद पर विकेटकीपर शाई होप के हाथों कैच हुए. शुरुआत हिचकिचाहट के बाद अजिंक्‍य रहाणे ने अच्‍छी पारी खेली और भारतीय टीम के स्‍कोर को आगे बढ़ाया. टी ब्रेक के समय स्‍कोर 47.2 ओवर में चार विकेट खोकर 134 रन था और रहाणे के साथ हनुमा विहारी बिना कोई रन बनाए नाबाद थे. रहाणे का अर्धशतक 117 गेंदों पर सात चौकों की मदद से पूरा हुआ.  

आखिरी सेशन: 81 रन बनाकर आउट हुए रहाणे
दिन के आखिरी सेशन में भारतीय टीम ने रहाणे और हनुमा विहारी के विकेट गंवाए. हनुमा विहारी इस सेशन में आउट होने वाले पहले बल्‍लेबाज रहे. 56 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 32 रन बनाने के बाद वे रोच की गेंद पर विकेटकीपर शाई होप के दस्‍तानों में कैद हुए. रहाणे की पारी का अंत गेब्रियल ने किया. उन्‍होंने अपनी 81 रन की पारी में 163 गेंदों का सामना करते हुए 10 चौके जड़े. पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय पंत और रवींद्र जडेजा नाबाद थे. मैच के दूसरे दिन टीम इंडिया की कोशिश अपने स्‍कोर को 300 रन के आसपास या इसके पार पहुंचाने की होगी. इसके लिए निचले क्रम के बल्‍लेबाजों को विकेट पर रुकने की इच्‍छाशक्ति दिखानी होगी. वेस्‍टइंडीज के लिए केमार रोच ने अब तक तीन विकेट लिए हैं. शेनॉन गेब्रियल ने दो विकेट लिए है ज‍बक‍ि एक विकेट रोस्‍टन चेज को मिला है.

इससे पहले बारिश के कारण टॉस में करीब आधा घंटे की देरी हुई. और जब टॉस हुआ, तो सिक्के की उछाल विंडीज के पक्ष में गई. वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया. चलिए जान लीजिए कि जेसन होल्डर ने क्यों पहले गेंदबाजी का फैसला चुना.

Related Articles