ब्रेकिंग न्यूज़

लाख रुपये के नकली नोटों के साथ 3 मुद्रा तस्कर गिरफ्तार

लखनऊ : राजधानी लखनऊ के अलीगंज थाना क्षेत्र से पुलिस ने नकली नोटों के साथ तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार…

 

लखनऊ : राजधानी लखनऊ के अलीगंज थाना क्षेत्र से पुलिस ने नकली नोटों के साथ तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है। पुलिस का दावा है कि पकड़े गए व्यक्तियों के पास से 32 लाख रुपये के नकली नोट बरामद हुए हैं। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया पुलिस अधीक्षक नगर ट्रांसगोमती हरेंद्र कुमार के निर्देश अनुसार क्षेत्राधिकारी अलीगंज दीपक कुमार के नेतृत्व में प्रभारी निरीक्षक अजय कुमार अलीगंज के कुशल निर्देशन में गुरुवार को केंद्रीय विद्यालय के पीछे करीब सुबह 5:45 बजे तीन व्यक्तियों को नकली भारतीय मुद्रा के साथ गिरफ्तार किया गया। पकड़े गए अभियुक्तों के कब्जे से दो- दो हजार रुपये के नकली नोट कुल 32,00,000 रुपये बरामद किए गए हैं। एसएसपी ने बताया अभियुक्तों के विरुद्ध अलीगंज थाने पर मुकदमा अपराध संख्या 517/18 धारा 498 (ए), 489 (बी), 489 (सी) आईपीसी पंजीकृत कर विवेचना की जा रही है, तथा अभियुक्तों को जेल भेज दिया गया है। एनजीओ वालों को जाल में फंसाकर काला धन करते थे सफेद एसएसपी ने बताया कि पकड़े गए अभियुक्तों ने अपना जुर्म कबूलते हुए पुलिस को पूछताछ के दौरान बताया कि वह अपने साथ ही की मदद से जाली नोटों को कूट रचित करके उसे लेकर एनजीओ वालों को बैंक में पैसा दिखाते हैं। फिर पैसा देखने के बाद एनजीओ चलाने वाले हमारे अकाउंट में जितना पैसा हम लोग बताते हैं उसकी आधी रकम आरटीजीएस (RTGS) के माध्यम से खाते में डालते थे। हम लोग कुछ पैसा एनजीओ को देकर कुछ बाद में पैसा देने का वादा करके चले जाते थे। बाद में आरटीजीएस से प्राप्त पैसा निकालने के बाद हम लोग जाली नोट एनजीओ के पास भिजवा देते थे। काला धन सफेद करने के लिए एनजीओ को अपने जाल में फंसाने का प्रयास करते थे हम लोगों ने पांच-छह बार इस प्रकार का प्रयास किए परंतु सफल नहीं हो पाए। प्रिंटर से स्कैन करके छापते थे नोट सीओ अलीगंज दीपक कुमार ने बताया कि आरोपियों ने बताया कि वह स्वयं नकली दो 2000 के नोटों को प्रिंटर से स्कैन करके छापा जाता है तथा उन नोटों को लखनऊ व अन्य जनपदों में लाकर असली नोटों से बदल दिया जाता है। आज भी कूट रचित भारतीय मुद्रा के साथ लखनऊ में आए थे। जिसे पुलिस टीम द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों के कब्जे से 2-2 हजार के 1600 नकली नोट कुल 32 लाख रुपए, एक कार भी बरामद बरामद हुई है। इनकी अभियुक्तों की हुई गिरफ़्तारी पकड़े गए अभियुक्तों ने पूछताछ में अपना नाम मनीष कुमार पुत्र प्यारेलाल निवासी मित्तई खेड़ा थाना औंध जिला फतेहपुर बताया है। इसके अलावा यमन पटेल उर्फ राहुल पुत्र रमेश पटेल निवासी कोड़ा जहानाबाद फतेहपुर। अमित कुमार अरुण पुत्र पन्नालाल वर्मा निवासी शांति नगर सरोजिनीनगर लखनऊ मूलपता नेहरू नगर थाना दिबियापुर औरैया बताया है। इन पुलिसकर्मियों ने की गिरफ्तारी नकली भारतीय मुद्रा के सौदागरों को गिरफ्तार करने में अलीगंज थाना प्रभारी अजय कुमार, उपनिरीक्षक विश्वनाथ प्रताप सिंह, उमाशंकर यादव, कांस्टेबल मिथिलेश गिरी, राहुल तालियान, अमरदीप गहलौत, दीपक बालियान और हिमांशु ने अहम भूमिका निभाई है।

Tags

Related Articles