उत्तर प्रदेश

#Badaun महिला अस्पताल में 50 दिन में 32 नवजात की मौत, CMO बोले- बचने के चांस कम थे

बदायूं । बीते 50 दिनों में जिला महिला अस्पताल की विशेष नवजात शिशु देखभाल इकाई एसएनसीयू में 32 बच्चों की मौत का मामला प्रकाश में आया है।

सीएमओ डॉक्टर मनजीत सिंह का कहना है कि, जिन बच्चों को एसएनसीयू में भर्ती कराया गया था, उनको गंभीर बीमारी थी और उनके बचने की संभावना कम थी।

अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉक्टर रेखा रानी का कहना है कि, इस महीने अस्पताल में बच्चों की भर्ती की संख्या पहले की तुलना में काफी बढ़ी है। उनमें से कुछ को मल्टी ऑर्गन फेल्योर के साथ भर्ती करवाया गया था। उन्होंने बताया कि करीब 20 बच्चों का इलाज किया गया और उन्हें छुट्टी दी गई है। 

मौसम के पल पल बदलते रुख के चलते बदायूं में बुखार के साथ डायरिया का प्रकोप फैला हुआ है। यहां दहगवां, बिसौली, जैतपुर आदि इलाकों से सर्वाधिक बच्चे अस्पताल पहुंचे। जिन्हें उल्टी, दस्त व बुखार की शिकायत थी। डॉक्टरों का कहना है कि, पहले लोगों ने स्थानीय डॉक्टरों से इलाज कराया, जब हालत बिगड़ी तो बच्चों को अस्पताल लाया गया। बच्चों को बचाने की कोशिश की गई, लेकिन सफलता नहीं मिली। 

Related Articles