जीवनशैली

अवैध खनन के खिलाफ लड़ी IAS अफसर को मिली थी आमिर खान की इस फिल्म से प्रेरणा

अवैध खनन की कई घटनाएं हमने सुनी है और कई पर फैसले भी लिए गए हैं. कुछ मामलों को नजरअंदाज भी कर दिया जाता है. लेकिन कहते हैं कि व्यक्ति अपने मन में कुछ ठान लेता है तो करके दिखाता है. यूपी के ग्रेटर नोएडा में यमुना नदी की तलहटी में चलने वाले रेत खनन के काले कारोबार को रोकने की हिम्मत तो किसी ने नहीं दिखाई.

durga shakti ias

2009 बैच की आईएएस दुर्गा शक्ति नागपाल ने इसे रोकने का साहस दिखाया. लेकिन अच्छे काम करने की एक कीमत भी अदा करनी पड़ती है जो दुर्गा को उत्तर प्रदेश सरकार के निलंबन से चुकानी पड़ी. उप्र सरकार के इस फैसले को पूरे देश ने नापसंद किया और इसके खिलाफ एकजुट हो गए. यहीं से दुर्गा शक्ति नागपाल सुर्खियों में आईं थीं. हाल ही में वो एक बार फिर चर्चा में आई हैं.

दुर्गा शक्ति नागपाल ने बताया कि उन्हें यूपी के रेत खनन माफिया से लड़ने के लिए प्रेरणा आमिर खान की फिल्म दंगल से मिली. एक इंटरव्यू में उन्होंने इस बात का खुलासा किया.

दुर्गा शक्ति नागपाल ने कहा- ‘हम सभी जानते हैं कि दंगल पहलवान महावीर सिंह फोगट की वास्तविक जीवन की कहानी पर आधारित है। बहुत अच्छे पहलवान होने के बावजूद, दुर्भाग्यवश महावीर सिंह देश के लिए स्वर्ण पदक नहीं जीत पाए। उनके पास कोई बेटा भी नहीं था, जो उनके सपने को पूरा कर सके। फिर एक दिन, उनके पड़ोसियों ने उनसे शिकायत करते हुए कहा कि उनकी बेटियों ने उनके बेटे को पीट दिया है और यह सुनने के बाद महावीर सिंह को एक सुनहरा अवसर मिला, बाकी सब इतिहास है जिससे हर कोई वाकिफ है.’

दुर्गाशक्ति नागपाल ने आगे कहा- ‘देश के पास आज सर्वश्रेष्ठ महिला पहलवान हैं। उन्होंने कहा कि अगर हम सभी को मात्र एक जीवन भर मिलता है, तो इसे क्यों नहीं पूरी ताकत और क्षमता के साथ जिया जाए.

दुर्गाशक्ति नागपाल उत्तर प्रदेश कैडर में भारतीय प्रशासनिक सेवा की अधिकारी हैं। वह भारत के केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री के ओएसडी के रूप में तैनात हैं.

Related Articles