लखनऊ जोन

लखनऊ इंदिरा नगर में सब्जीमंडी व्यापारियों द्वारा सड़क पर अवैध कब्जे से परेशान स्थानीय निवासी…

एक ओर सरकार प्रदेश की राजधानी लखनऊ को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए प्रयासरत, वहीँ कुछ लोग निजी स्वार्थ वश इसमें रोड़े डालने से बाज नहीं आ रहे हैं I

हम बात कर रहे हैं इंदिरा नगर के सेक्टर-17 की सब्जी मंडी की, जिसको सब्जी व्यापारी वैध बता कर सड़कों पर भी अवैध कब्ज़ा करने से बाज नहीं आ रहे, वहीँ क्षेत्रीय पार्षद भृगनाथ शुक्ल ने इस सब्जी मंडी को ही अवैध करार दिया I

बताते चले अभी कुछ दिन पूर्व ही यहाँ नगर निगम द्वारा पुलिस विभाग के सहयोग से अवैध अतिक्रमण हटाया गया था, लेकिन शाम को ही स्तिथि जस की तस हो गयी I इसी सब्जी मंडी से लगी सेक्टर-17, इंदिरा नगर कॉलोनी में करीब 26 घर ऐसे भी हैं, जिनके रास्ते को बंद कर यहाँ सड़कों पर भी अवैध रूप से सब्जी मंडी लगाई जाती है, यहाँ के निवासियों ने पिछले दसियों सालों से इसकी शिकायत की है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई और सब्जी व्यापारी इन सब पर भारी पड़ यहाँ के निवासियों को धमकाते रहे I

इंदिरा नगर गंदगी का अंबार

स्मार्ट सिटी बनाने के अंतर्गत वर्तमान प्रयासरत सरकार से आशाएँ लगाए यहाँ के निवासियों ने अपनी समस्याएँ मुख्य मंत्री तक पहुंचाई, जिसमे उन्होंने बताया कि सड़क पर अवैध अतिक्रमण के कारण वह अपनी गाड़ियां दिन भर घर तक नहीं ला पाते, रात को सब्जी मंडी बंद होने पर ही यहाँ के निवासी अपनी गाड़ियां घर तक लाते हैं, कोई भी अनहोनी के समय फायर ब्रिगेड या एम्बुलेंस इन घरों तक इस अतिक्रमण के रहते घंटो तक नहीं पहुंच सकती, सबसे बड़ी बात कि मृत्यु होने पर शव भी यहाँ घर से बाहर तक गाड़ी से नहीं ले जाया जा सकता है, नाले में बची सड़ी सब्जी डालने से नाला हमेशा ही जाम रहता है, और शाम को यहाँ बची सब्जी खाते आवारा पशुओं का जमावड़ा भी देखा जा सकता है I स्थानीय महिलाओं ने तो यहां से स्कूल जाते समय उनकी बेटियों पर कुछ सब्जी व्यापारियों द्वारा छींटा कशी का भी आरोप लगाया है I

पिछले कई वर्षों से नगर निगम ने अनेको बार यहाँ अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की, लेकिन शाम को हालात पहले की तरह हो जाते हैं, नगर निगम अतिक्रमण हटा कर, दोबारा अतिक्रमण ना लगने की जिम्मेदारी क्षेत्रीय पुलिस विभाग पर डालते हैं और पुलिस विभाग नगर निगम पर I

वर्षों पुराने इस अतिक्रमण को हटवा कर सेक्टर-17, इंदिरा नगर के निवासियों को राहत पहुंचाने की इस बार नगर निगम एवं पुलिस प्रशासन ने ठान ली है, और नगर निगम के कर अधीक्षक आर एस कुशवाह एवं मुंशीपुलिया चौकी इंचार्ज दुगा प्रसाद यादव ने निरंतर यहाँ अतिक्रमण हटाने के खिलाफ कार्यवाही भी शुरू कर दी है, जिससे स्थानीय निवासियों ने राहत की सांस ली है, और उनके मन में इस बार स्थाई रूप से अतिक्रमण हटने की उम्मीद जगी है I

नाले में सड़ी सब्जियाँ पाए जाने पर सब्जी व्यापारियों को नगर निगम, पुलिस विभाग के अधिकारियों संग क्षेत्रीय पार्षद द्वारा भी फटकार लगाई गयी, साथ ही यहाँ इस नाले के ऊपर जल्द ही स्लैब ढाल कर इसको कवर करने का भी फैसला लिया गया, जिसका निर्माण जल्द ही शुरू हो जाएगा I

जोन-7 में स्थाई रूप से पटरी व्यापारियों को चिन्हित जगह देकर सुव्यवस्तिथ करने पर नगर निगम के कर अधीक्षक आर आर कुशवाह ने बताया कि इस पर विभाग द्वारा कार्यवाही चल रही है और 15-20 दिनों में जोन-7 में पटरी व्यापारियों के लिए जगह चिन्हित होने की संभावना है I

इस प्रकार ही बनेगा हमारा लखनऊ स्मार्ट सिटी I

Related Articles