कमल हासन का विवादित बयान, गोडसे हत्यारा या आतंकवादी

कमल हासन ने रविवार को तमिलनाडु के अरवाकुरिची में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुआ कहा था कि नथुराम गोडसे आज़ाद भारत के पहले अतिवादी थे और वो हिन्दू थे. कमल हासन ने तमिल भाषा ये बात कही थी और उन्होंने तीव्रवादी शब्द का इस्तेमाल किया था । हालांकि अंग्रेज़ी और हिन्दी मीडिया में अतिवादी की जगह आतंकवादी शब्द कमल हासन के हवाले से कहा जा रहा है ।

तमिल में आतंकवाद के लिए भयंकरवादी शब्द होता है जिसका इस्तेमाल कमल हासन ने नहीं किया है ।

जनसभा को संबोधित करते हुए कमल हासन ने कहा कि वो उन लोगों में से हैं जो विविधता में एकता पर भरोसा करते हैं और लोगों के बीच समानता की चाहत रखते हैं । हासन ने कहा, ”हमारे राष्ट्र ध्वज में तीन रंग हैं जो कि अलग-अलग मतों का प्रतिनिधित्व करते हैं पर एक साथ रहते हैं.”

कमल हासन की जनसभा मुस्लिम बहुल इलाक़े में थी । इसलिए कह रहा हूं क्योंकि यहां गांधी की प्रतिमा है आज़ाद भारत का पहला अतिवादी हिन्दू था और उसका नाम नथुराम गोडसे था । यहीं से अतिवाद शुरू होता है ।अच्छे भारतीय समानता की चाहत रखते हैं और तिरंगे में तीनों रंगों को साथ रखना चाहते हैं. मैं एक अच्छा भारतीय हूं और इसे मैं गर्व से कहता हूं.”

About Nation Times

https://twitter.com/nationtimes1

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com