राजनीति

अखिलेश ने कसा तंज , कहा बजरंग बली के साथ सभी भगवानों की जाति बताएं

लखनऊ। पांच राज्यों के चुनाव परिणाम आने के बाद उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सीएम योगी को उनके बयान पर घेरते हुए कहा, ‘अगर वो (योगी आदित्यनाथ) सभी भगवानों की जाति बता दें तो हमारा काम आसान हो जाएगा, हम अपनी ही जाति वाले भगवान से सबकुछ मांगेंगे, हम इधर-उधर क्यों मांगें कोई चीज। अब तो उन्हें खुद बताना पड़ेगा कि किस भगवान ने उन्हें क्या दिया है।’

बता दें सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुछ दिनों पूर्व राजस्थान विधानसभा चुनाव की रैलियों के बीच अलवर में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि हनुमान जी दलित आदिवासी, वनवासी और वंचित थे। उन्होंने अपील की थी कि इस चुनाव में रामभक्त बीजेपी को वोट दें और रावण भक्त कांग्रेस को वोट दें।

यह पहली बार नहीं था जब सीएम योगी ने भगवान हनुमान का नाम लेकर वोट मांगे हों। बीते महीने की शुरुआत में उन्होंने छत्तीसगढ़ में दावा किया था कि हनुमान दलित थे। उन्होंने कहा था कि हनुमान सबसे बड़े आदिवासी हैं, वनवासी हैं।जब भगवान राम वनवास पर थे तब उन्होंने स्थानीय आदिवासियों को राक्षसों के आतंक से मुक्ति दिलाई थी। जिस तरह राम ने यह काम त्रेतायुग में किया था, उसी तरह बीजेपी राज्य में रामराज लाने की कोशिश कर रही है।

मालूम हो कि अभी हाल ही हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में बीजेपी का प्रदर्शन खराब रहा। वहीं विपक्षी पार्टी कांग्रेस का विजयी रथ, जो बीते कुछ सालों से थमा हुआ था, वह दोबारा चलने लगा है।

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों ने ये तो साफ कर दिया कि जनता अब धर्म और नफरत की राजनीति से ऊब चुकी है। दूसरी ओर यह बात भी उठने लगी है कि बीजेपी खेमे में स्टार प्रचारक माने जाने वाले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने भाषण से हवा का रुख बदलने में नाकाम साबित हो रहे हैं।

Related Articles