राष्ट्रीय

BHU का माहौल फिर से बिगड़ा फूटा छात्रों का गुस्सा, प्रशासन के खिलाफ की फिर नारेबाजी

बीएचयू का माहौल लगातार खराब हो रहा है। बीएचयू के भगवान दास हॉस्टल में परीक्षा से वंचित रहने वाले लगभग दर्जन भर छात्रों ने जमकर हंगामा किया। बता दें हॉस्टल के छात्रों ने कुछ छात्रों को बंधक बना लिया गया था।

BHU

जिनमें दो छात्र हॉस्टल के कमरे की ग्रिल तोड़कर भाग निकले और चीफ प्रॉक्टर को मामले की जानकारी दी। सुरक्षाकर्मियों की सूचना पर लंका पुलिस और चीफ प्रॉक्टर मौके पर पहुंची। चीफ प्रॉक्टर ने छात्रों से बात करने की कोशिश की तो छात्रों ने साफ मना कर दिया।

इसके बाद हॉस्टल के छात्रों ने मैन गेट बंद करके परिसर की लाइट काट दी और फिर बीएचयू प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सभी छात्र विधि संकाय के प्रोफेसर और हॉस्टल के वार्डेन को मौके पर बुलाने की मांग पर अड़े रहे।

दरअसल, विश्वविद्यालय परिसर में इन दिनों सेमेस्टर परीक्षा चल रही है। इसमें विधि संकाय के ऐसे छात्रों जिनकी उपस्थिति मानक से कम है, उन्हें परीक्षा से वंचित कर दिया गया। शनिवार को भी छात्रों ने सिंह द्वार पर धरना दिया था, जिसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन को 26-27 नवंबर की परीक्षा स्थगित करनी पड़ी थी।

इसके बाद भी जब कोई फैसला नहीं हुआ तो 27 नवंबर को फिर केंद्रीय कार्यालय पर धरना देकर परीक्षा दिलाए जाने की मांग की। सूत्रों की माने तो ऐसे छात्र जिनकी उपस्थिति कम थी और परीक्षा नहीं दे सके। लेकिन ये सभी छात्र चाहते हैं कि संकाय के दूसरे छात्र भी परीक्षा न दें।

Related Articles