उत्तर प्रदेश

कानपुर विकास प्राधिकरण की बड़ी लापरवाही,पत्रकारों ने किया KDA का घेराव

रिपोर्ट -शुभम कपूर

कानपुर । में विकास प्राधिकरण का बड़ा मामला प्रकाश में आया है । यह मामला कानपुर के प्रतिष्ठित पत्रकार क़ा हैं ,जिसमें पत्रकार के पिता विजय बहादुर के पक्ष में कानपुर विकास प्राधिकरण के जोन  2  की रतनपुर आवसीय योजना में भवन संख्या -EWS-31/697 आवंटित एवं एग्रीमेंट हुआ था। वहीं  एग्रीमेंट होने के बावजूद आवंटित भवन क़ा कब्जा विकास प्रधिकरण द्दारा नही दिया गया था। भवन क़ा आवंटन न किये जाने की स्थिति में भवन की सुरक्षा की जिम्मेदारी प्राधिकरण की होती हैं, इसके साथ ही  जोन -2 के कर्मचारियों ने पत्रकार के पिता के साथ धोखाधड़ी करते हुए आवंटित उपरोक्त भवन को कूटरचना कर किसी अन्य  रेखा देवी पांडे के w/o चंद्रप्रकाश पांडे को अवैध रूप से दोहरा आवंटन कर दिया।

आपको को बता दे कि वर्ष 2013 में कानपुर विकास प्राधिकरण द्वारा एक दैनिक समाचार पत्र में विज्ञापन द्वारा उपरोक्त योजना के आवंटियों ( जिनकी एक चौथाई धनराशि जमा हैं  ) को शेष धनराशि प्राधिकरण कोष में जमा कराकर निबंधन कराने क़ा अवसर प्रदान किया गया था । जिसके अनुपालन में पत्रकार ने दिनांक 24/8/2013 एवं 10/9/2013 को तत्कलीन उपाध्यक्ष के समक्ष उपस्थित होकर निबंधन कराने हेतू उपरोक्त भवन के बकाया धनराशि ब्यौरा  ( शेष धनराशि  )बतायें जाने की मांग एवं रेखा देवी पांडे के अवैध की शिकायत की एवं मुख्य मंत्री जनसुनवाई पोर्टल तथा प्राधिकरण के माध्यम से लगातार अपनी समस्या दर्ज कराते चले आ रहे ।  लेकिन प्राधिकरण द्वारा पत्रकार की समस्या क़ा समाधान नही किया जा रहा हैं। जबकि एक माह पहले जनसुनवाई के माध्यम से प्रधिकरण के  सचिव के.पीं सिंह ने वैकल्पिक भवन संख्या 386/697 रतनपुर कालोनी में आवंटित करने की बात कहीं थी उसके बाद भी पत्रकार क़ा लगातार उत्पीड़न किया जा रहा हैं । जब पत्रकारों के साथ ऐसी घटनायें हो रहीं है तो आम जनता का क्या हाल होगा इसका अंदाजा आप खुद लगा सकते हैं ।

Related Articles