राजनीति

BJP की सरकार ने दलितों को मूर्ख बनाने का प्लान बनाया है : समाजवादी पार्टी

आजमगढ़ । उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी ने कहा कि भाजपा की केंद्र और प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर विफल हो चुकी है। उनको पता चल गया है कि झूठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ने वाली है। यही कारण है कि आरएसएस के इशारे पर उनके राजनीतिक संगठन भाजपा, विश्व हिंदू परिषद ने राम मंदिर का मुद्दा खड़ा कर पिछड़ों, शोषितों व दलितों को मूर्ख बनाने का प्लान तैयार किया है। 

भाजपा ने दलितों

सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि मंदिर बनवाना भाजपा का लक्ष्य नहीं है, बल्कि मंदिर के बहाने सत्ता हासिल करना है। जनता सब समझ रही है। जो अपेक्षा इन्होंने भीड़ जुटाने की की थी, वह भीड़ नहीं जुट पाई, क्योंकि पिछड़े वर्ग के लोग उनकी चाल को समझ गए हैं।

आईपीएन को दिए अपने बयान में उन्होंने कहा कि सन् 1992 में जब प्रदेश में कल्याण सिंह के नेतृत्व में भाजपा की सरकार थी, उस समय आरएसएस ने पिछड़े समाज के मुख्यमंत्री के विरुद्ध रणनीति बनाकर मंदिर व मस्जिद गिराने का षड्यंत्र किया। वह पिछड़े वर्ग के मुख्यमंत्री को नहीं बर्दाश्त कर सकते।

वहीं हवलदार ने कहा कि मोदी व योगी के शासनकाल में जनता कमरतोड़ मंहगाई व बेरोजगारी से परेशान है। किसान डीजल व विद्युत की दरें खाद, बीज मंहगा होने के कारण बुआई नहीं कर पा रहा है। नियुक्तियों में घोर भ्रष्टाचार व बेईमानी हो रही है। पिछड़ों व दलितों को भागीदारी से वंचित किया जा रहा। जाति विशेष के लोगों को नौकरी में रखा जा रहा है।

उन्होंने कहा कि धान क्रय केंद्र न खुलने के कारण किसान धान को औने-पौने दाम में बिचौलियों को बेचने पर मजबूर है। गन्ना किसानों को पर्चियां नहीं मिल रही हैं। बिचौलिये पर्चियां लेकर गन्ना किसानों से सीधे गन्ना ले रहे हैं। थानों व तहसीलों में भी घोर भ्रष्टाचार है। अधिकारी जाति पूछकर लोगों का काम कर रहे हैं।

हवलदार ने कहा कि नोटबंदी व जीएसटी से आम आदमी व छोटे व्यापारी परेशान हैं। इन मुद्दों से जनता का ध्यान भटकाने के लिए आरएसएस व भाजपा भगवान राम के नाम पर राजनीतिक रोटी सेंक रहे हैं।

सपा जिलाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा की सरकार में पूंजीपति मालामाल हो रहा है। किसान, गरीब भुखमरी से पीड़ित हो रहा है। आरएसएस व भाजपा न्यायालयों पर खुलेआम टिप्पणी कर रही है। उसका संविधान व लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है।

Tags

Related Articles