ब्रेकिंग न्यूज़

राजस्थान में कांग्रेस की सूची जारी होते ही मचा गया हंगामा,कई कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ी

मिशन 2019 का बिगुल बज चुका है कांग्रेस में सबसे ज्यादा प्रदर्शन राजस्थान में बीकानेर और कोटा में हो रहा है । बीकानेर में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष बीडी कल्ला का टिकट कट गया है जिसके खिलाफ रात से हीं कांग्रेस के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. कई जगह रेलवे लाइन पर भी बैठकर ट्रेनें रोकी और कांग्रेस दफ्तर में पड़ी कुर्सियां तक जला डाली ।

राजस्थान में नाराज कांग्रेसी ( Photo: aajtak)
राजस्थान में नाराज कांग्रेसी ( Photo: aajtak)
राजस्थान में विधानसभा चुनाव के टिकटों की घोषणा के साथ ही पूरे राज्य में कांग्रेस में कोहराम मच गया है । जगह-जगह प्रदर्शन चल रहे हैं । जयपुर,कोटा, बीकानेर, भरतपुर समेत करीब करीब सभी संभागों में कांग्रेस कार्यकर्ता पार्टी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं और पार्टी से इस्तीफा दे रहे हैं ।

जयपुर में जैसे ही किशनपोल विधानसभा सीट के टिकट का ऐलान हुआ शहर की पूर्व मेयर और कांग्रेस के महासचिव ज्योति खंडेलवाल ने नाराज होकर पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया. वहीं, विद्याधर नगर से दो बार चुनाव लड़ चुके विक्रम सिंह बगावत पर उतर आए हैं. उनके समर्थन में जयपुर के कांग्रेस दफ्तर के बाहर प्रदर्शन हो रहा है. विक्रम सिंह ने संकेत दिए हैं कि वह निर्दलीय चुनाव में लड़ेंगे.

अजमेर में भी मसूदा से पूर्व संसदीय सचिव ब्रह्मदेव कुमावत निर्दलीय ताल ठोक दी है. कांग्रेस ने उनका टिकट काटकर राकेश पारीक को मैदान में उतारा है. जैसलमेर में रूपा राम मेघवाल को कांग्रेस का टिकट दिए जाने के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व विधायक सुनीता भाटी ने पार्टी छोड़ने के संकेत दिए हैं. डूंगरपुर की चौरासी सीट से कांग्रेस के मंजुला रोत को उम्मीदवार बनाया तो दूसरे उम्मीदवार महेंद्र बरजोड़ बगावत पर उतर आए हैं ।

कांग्रेस दफ्तर में पड़ी कुर्सियां तक  को आग के हावाले कर दिया  

कांग्रेस में सबसे ज्यादा प्रदर्शन राजस्थान में बीकानेर और कोटा में हो रहा है. बीकानेर में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष बीडी कल्ला का टिकट कट गया है जिसके खिलाफ रात से ही कांग्रेस के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. कई जगह रेलवे लाइन पर भी बैठकर ट्रेनें रोकी और कांग्रेस दफ्तर में पड़ी कुर्सियां तक जला डाली. कोटा में भी कोटा दक्षिण से राखी गौतम को टिकट दिए जाने के खिलाफ कांग्रेस नेता पंकज मेहता विरोध पर उतर आए हैं ।जयपुर का कांग्रेस मुख्यालय विद्रोही कांग्रेस नेताओं का अड्डा बना हुआ है, जहां पर एक दर्जन असंतुष्ट उम्मीदवार प्रदर्शन कर रहे हैं. बस्सी से टिकट न मिलने से नाराज लक्ष्मण मीणा के समर्थक लगातार यहां पर जमे हुए हैं और प्रदर्शन कर रहे हैं ।

भीलवाड़ा में भी अनिल डांगी की उम्मीदवारी के खिलाफ कार्यकर्ता सड़कों पर उतरकर रोष जता रहे हैं. टोडाभीम में भी दो बार कांग्रेस से बागी रहे पृथ्वीराज मीणा को उम्मीदवार  बनाए जाने से गुस्साए कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया. गुरुवार आधी रात को प्रत्याशियों की सूची जारी हुई थी. उसके बाद से अब तक करीब डेढ़ सौ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पार्टी छोड़ दी है ।

Tags

Related Articles