राजनीति

क्या संसद का शीतकालीन सत्र पूरी कर पायेगा राम मंदिर पर विधेयक की मांग ?

नयी दिल्ली| हाल ही में संसदीय मामलों पर कैबिनेट कमेटी ( सीसीपीए) ने बैठक की।  केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाली बैठक में संसद के शीतकालीन सत्र को लेकर निर्णय लिया गया।

क्या संसद का शीतकालीन सत्र पूरी कर पायेगा राम मंदिर पर विधेयक की मांग?

इस संबंध में केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने बताया कि कैबिनेट कमेटी ने अगला शीतकालीन सत्र 11 दिसंबर, 2018 से शुरू करने का फैसला लिया है।  वहीं इसका समापन 8 जनवरी, 201 9 को किया जाएगा।

इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि हम सभी दलों से सहयोग और समर्थन चाहते हैं, जिससे संसद सत्र हंगामें की भेंट न चढ़े।

संसद के इस शीतकालीन सत्र से काफी उम्मीदे हैं क्याेंकि आगामी 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले ये अंतिम सत्र होगा। एेसे में इस दौरान कई  विधेयकों के पेश होने व कर्इ विधेयकों के पारित होने की उम्मीद है।

 

खबरों की मानें तो इसमें राम मंदिर विधेयक आने की उम्मीद सबसे ज्यादा है। वहीं यहां विपक्ष राफेल डील जैसे मुद्दे भी उठा सकता है। बता दें कि अमूमन संसद का शीतकालीन सत्र अमूमन नवंबर में शुरू होता है लेकिन बीते साल से इसका समय बदल गया है।

यह लगातार दूसरा साल है जब सत्र दिसंबर में शुरू होने जा रहा है।

Related Articles