उत्तर प्रदेश

एसडीएम ने खुले में शौच करने वालों को चेताया,लाभार्थियों से अधूरे शौचालय को अविलम्ब पूर्ण कराने को कहा

मधुबन, मऊ
विकास खण्ड फतहपुर मंडाव के ग्राम पंचायत दुबारी में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत ग्राम पंचायत को ओडीएफ कराने के साथ ही सोमवार की तड़के पांच बजे उपजिलाधिकारी निरंकार सिंह, खण्ड विकास अधिकारी सुवेदिता सिंह व ग्राम प्रधान रंजना सिंह के नेतृत्व में व्यापक स्तर पर धूस देवारा व खैरा देवारा गांव के सिवान में लोगों से मिलकर खुले में शौच करने न करने की सख्त हिदायद दिया। वहीं एक-एक लाभार्थियों से मिलकर अपूर्ण शौचालय निर्माण को अविलम्ब पूर्ण कराने के लिए पर दबाव बनाया। चेताया कि शौचालय निर्माण अविलम्ब पूर्ण न होने पर उन लाभार्थी के उपर कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

फोटोः शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण कराने के लिए लाभार्थियों से मिले एसडीएम

ग्रामीणों से खुले में मल त्याग करने से उत्पन्न होने वाली बीमारियों के बारे में विस्तृत जानकारी दिया गया। खुले में शौच करने पर रोक लगाने के लिए चले अभियान में करीब दो दर्जन लोग पकड़े गए। पकड़े गए लोगों को खुले में मल त्याग करने से होने वाले रोगों के प्रति सचेत करते हुए कहा कि मक्खियां त्याग किए गए मल पर बैठकर भोज्य पदार्थों पर बैठती हैं। इससे भोजन दूषित हो जाता है। इससे बिमारियां के फैलने का खतरा रहता है। जबकि खुले में शौच करने वालों को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। इस अभियान में लोग खुले में शौच न करने का संकल्प लिया। इस अवसर पर ग्राम विकास अधिकारी प्रमोद कुमार, प्रधान प्रतिनिधि अनिल सिंह, स्वच्छताग्रही आलोक चौहान, आशा बहू प्रमिला, रोजगार सेवक सर्वदानंद उपाध्याय, ग्राम पंचायत सदस्य छोटेलाल गुप्त, शैलेन्द्र चौहान, कोटेदार रामप्रताप सिंह, अमरनाथ गोंड, एकबाल अहमद, सामू, शिवकुमार गुप्ता, बब्लू गुप्ता, आंगनबाड़ी सहायिका कौशिल्या देवी, महेश उपाध्याय आदि उपस्थित रहे।

Related Articles